WWW क्या है? history of www in hindi.

WWW क्या है? history of www in hindi : नमस्कार दोस्तों Hindigyan4tech में आप सभी का बहुत-बहुत स्वागत है आज की इस पोस्ट में हम आपको बताने वाले हैं, WWW के बारे में, “WWW क्या है? history of www in hindi. और WWW काम कैसे करता है उसकी पूरी जानकारी” आज की इस पोस्ट में हम आपको देने वाले हैं, अगर आप इंटरनेट user है तो आपने WWW के बारे में जरूर सुना होगा क्यों की सही वेबसाइट के URL में WWW लगा होता है, तो क्या आप यह जानते हैं कि WWW क्या है? WWW की पूरी जानकारी के लिए आज की इस पोस्ट को पूरा अंत तक जरुर पढें।

www kya hai

WWW क्या है? ( What is WWW in hindi? )

WWW का Full Form World Wide Web है, इसे हिंदी में विश्व व्यापी वेब कहा जाता है। इसे सिंपल भाषा में W3 या Web भी कहते हैं। अगर सामान्य भाषा में यह पूछा जाए कि WWW क्या है? तो WWW एक information space है जो Hypertext के text, image, video और other Media को internet के द्वारा एक web page पर प्राप्त करने की प्रक्रिया है। इसे हम virtual place भी कहते हैं, जहां हम दुनिया के सभी web page, web server और website को Hyper Text Transfer Protocol यानी HTTP के द्वारा access कर सकते हैं।

किसी भी वेबसाइट या वेब पेज को बिना World Wide Web यानी WWW के विजिट करना ना मुमकिन है, क्योंकि कोई भी वेबसाइट बिना WWW से कनेक्ट हुए कोई भी वेब पेज विजुअल नहीं होगा।

WWW का इतिहास क्या है? ( history of www in hindi )

Tim Berners-Lee को ‘World Wide Web (WWW)’ का जनक माना जाता है, ये W3C के Director थे, Tim Berners-Lee ने ही Hypertext को develop किया था।

Tim Berners-Lee को “World Wide Web” के inbuilt idea बचपन में पड़े किताब “Enquire Within Upon Everything” से मिला था। Hypertext develop करने के बाद Tim Berners-Lee ने सर्वप्रथम march 1989 में WWW के ऊपर काम शुरू कर दिया था, इसके बाद Tim Berners-Lee ने Robert Cailliau कि मदद से 12 नवंबर 1990 को World Wide Web ( WWW ) का निर्माण किया था।

Tim Berners-Lee ने 6 अगस्त 1991 को World Wide Web ( WWW ) का एक संक्षिप्त विवरण पोस्ट किया था, इस डेट को internet पर www का सार्वजनिक शुरुआत माना जाता है।

World Wide Web ( WWW ) काम कैसे करता है?

जब कोई user किसी वेबसाइट को open करने के लिए किसी ब्राउज़र में उस वेबसाइट का URL या Domain name सर्च करता है तो उस web page के material को display करने के लिए back end में WWW काम करता है, जब आप किसी वेबसाइट का Domain name search करता है तो ब्राउजर इस रिक्वेस्ट को World Wide Web के पास भेजता है, इसके बाद World Wide Web (WWW) उस डोमेन नेम के IP address को ढूंढता है इसके बाद उस आईपी ऐड्रेस की मदद से उस वेबसाइट का Web Server ढूंढ कर उस ब्राउज़र तक पहुंचाता है।

Conclusion

I Hope अब आप WWW के बारे में अच्छे से समझ चुके होंगे कि WWW क्या है?, WWW का इतिहास क्या है? और World Wide Web ( WWW ) काम कैसे करता है? अगर आपको इस पोस्ट की मदद से कुछ नया सीखने को मिला है तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें, और यह पोस्ट आपको कैसा लगा यह नीचे कमेंट करके जरूर बताएं।

इस तरह के नए पोस्ट की अपडेट पाने के लिए आप हमारे वेबसाइट के notification Bell जरूर ऑन कर लें।

You May Also Like

About the Author: Tarun Kumar

Namaskar dosto, Main Tarun Kumar Hindigyan4tech ka CEO and Founder hun. Mujhe Tech se related kisi bhi chij ke bare me detail me jankari logo tak pahuchana achha lagta hai. Agar aapko mere dwara likhe gaye post achhe lagte hain to esi tarah se hamara Sahyog karte rahe taki ham aapke liye aur bhi nayi jankari aap logo tak pahucha saku.

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *